Pages

Follow by Email

Friday, 10 June 2016

पांच दिन-पांच देश की सफल यात्रा के बाद स्वदेश लौटे पीएम

पांच देशों की सफल यात्रा के बाज पीएम मोदी भारत लौट आए हैं। हवाई अड्डे पर समर्थकों ने गर्मजोशी से स्वागत किया।नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज पांच देशों की अपनी सफल यात्रा के बाद भारत लौट आए। दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचने पर उनका शानदार स्वागत हुआ। जहां एयरपोर्ट दिल्ली बीजेपी के नेताओं ने उनकी अगुवानी की। वहीं एयरपोर्ट के बाहर भी प्रधानमंत्री की एक झलक पाने के लिए हजारों की संख्या में लोग जुटे। प्रधानमंत्री ने भी अपने चाहने वालों को निराश नहीं किया और वो एयरपोर्ट के बाहर अपनी गाड़ी रुकवाकर समर्थकों के बीच जाने के लिए आगे बढ़े। तभी प्रधानमंत्री मोदी की नजर भीड़ में अपने पिता के कांधे पर बैठी एक बच्ची पर गई। पीएम सीधे उस बच्ची के पास गए उससे हाथ मिलाया व उसका नाम पूछा। इसके बाद प्रधानमंत्री ने अपने इंतजारमें खड़े समर्थकों से भी हाथ मिलाया और धन्यवाद कहा।

जनता के प्रधानमंत्री काजनता के इतने करीब होना सभी को भावुक कर गया। प्रधानमंत्री को अपने इतने करीब पाकर मोदी-मोदी और भारत माता की जय के नारे लगे। मोदी के स्वागत में पहुंचे लोगों में गजब का जोश दिखाई दिया और मोदी-मोदी के नारे लगे.हवाई अड्डे से काफिले के रवाना होने के बाद सड़कों पर समर्थकों को देखा और अपने काफिले को रोकने के लिए कहा। लोगों से गर्मजोशी से मुलाकात की। रधानमंत्री के पांच देशों के दौरे का आखिरी पड़ाव मैक्सिको रहा। मोदी ने ट्वीट किया, 'मैक्सिको आपका धन्यवाद. भारत-मैक्सिको संबंधों में नए युग की शुरुआत हुई है। यह रिश्ता हमारे लोगों और पूरी दुनिया को फायदा पहुंचाने जा रहा है।


विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता विकास स्वरूप ने कहा कि 'पांच दिन, पांच देश. यात्रा के आखिरी पड़ाव में मैक्सिको के उपयोगी दौरे के बाद प्रधानमंत्री दिल्ली के लिए रवाना हुए। प्रधानमंत्री की पांच दिवसीय यात्रा की शुरुआत बीते चार जून को हुई। इस दौरान वह द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत बनाने के लिए अफगानिस्तान, कतर, स्विट्जरलैंड, अमेरिका और मैक्सिको गए और वहां के शीर्ष नेतृत्व से बातचीत की।

अमेरिकी कांग्रेस के संयुक्त सत्र को संबोधित करने के अलावा मोदी ने परमाणु आपूर्तिकर्ता समूह (एनएसजी) के लिए भारत की सदस्यता के दावे को लेकर इस समूह के दो प्रमुख देशों स्विट्जरलैंड और मैक्सिको का समर्थन हासिल किया.

उन्होंने व्हाइट हाउस में राष्ट्रपति बराक ओबामा के साथ विस्तृत बातचीत की और इसके बाद अमेरिका ने भारत को 'बड़ा रक्षा साझेदार' बताया।

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email