Pages

Follow by Email

Wednesday, 1 June 2016

अर्थव्यवस्था की रफ्तार हुई और तेज़

आर्थिक गतिविधियों को गति देने एवं सरल कारोबारी माहौल बनाने की सरकार की कोशिशों के सकारात्मक नतीजे मिलने शुरू हो गए हैं और वित्त वर्ष 2015-16 में देश की औसत विकास दर 7.6 प्रतिशत पर पहुँच गई।
वित्त वर्ष 2015-16 के चौथी तिमाही यानि इस साल जनवरी से मार्च के दौरान ये 7.9 प्रतिशत के सर्वोच्च स्तर रही है। केन्द्रीय सांख्यिकी  संगठन द्वारा जारी आँकडों के अनुसार, इस साल मार्च में समाप्त वित्त वर्ष में देश की विकास दर 7.6 फीसदी रही।

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email