Pages

Follow by Email

Friday, 3 June 2016

आरबीआई निर्देश के बाद अब बैंक बनाएंगे साइबर फ्राड रोकने की नीति

अहमदाबाद, 2 जून (आईएएनएस)। गुजरात इंटरनेशनल फाइनेंस टेक (गिफ्ट) सिटी और गिफ्ट सेज लिमिटेड (गिफ्ट सेज) ने गुरुवार को सिंगापुर अंतर्राष्ट्रीय मध्यस्थता केंद्र (एसआईएसी) के साथ यहां देश के प्रथम अंतर्राष्ट्रीय वित्तीय सेवा केंद्र (आईएफएससी) में विवाद समाधान प्रणाली को बढ़ावा देने के लिए एक सहमति समझौते (एमओए) पर हस्ताक्षर करने की घोषणा की।गिफ्ट सिटी ने अपने एक बयान में कहा कि एमओए के तहत तीनों
हस्ताक्षरकर्ता आपसी साझेदारी के साथ आर्बिट्रेशन, मेडिएशन और अन्य विवाद समाधान प्रणाली के उपयोग को बढ़ावा देंगे, जिसमें एसआईएसी और सिंगापुर इंटरनेशनल मेडिएशन सेंटर (एसआईएमसी) की आर्ब-मेड-आर्ब सेवा शामिल है।बयान में कहा गया है कि आईएफएससी-गिफ्ट में एसआईएसी अपना एक प्रतिनिधि कार्यालय स्थापित करेगा, जो देश में एसआईएसी की विश्वस्तरीय इंटरनेशनल आर्बिट्रेशन सेवाओं को बढ़ावा देगा।बयान के मुताबिक, "भारतीय पक्ष गत पांच साल में लगातार एसआईएसी के शीर्ष पांच विदेशी उपयोगकर्ताओं में रहे और 2013 तथा 2015 में शीर्ष विदेशी उपयोगकर्ता रहे।"गिफ्ट समूह के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अजय पांडे ने कहा, "एसआईएसी और एसआईएसी नियमों का भारत में निवेश करने वाली भारतीय और अंतर्राष्ट्रीय कंपनियां अपने विवादों के समाधान में काफी अधिक उपयोग करती हैं।"एसआईएसी और एसआईएमसी के मुख्य कार्यकारी अधिकारी लिम सियोक हुई ने कहा, "आईएफएससी-गिफ्ट में प्रतिनिधि कार्यालय स्थापित कर हम गिफ्ट सिटी के आर्थिक विकास में योगदान करना चाहते हैं।"

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email