Pages

Follow by Email

Friday, 10 June 2016

औद्योगिक उत्पादन अप्रैल में 0.8 प्रतिशत गिरा

नयी दिल्ली, 10 जून :भाषा: विनिर्माण तथा पूंजी वस्तु उत्पादन क्षेत्रों के खराब प्रदर्शन से औद्योगिक उत्पादन अप्रैल माह में एक साल पहले की तुलना में 0.8 प्रतिशत घट गया। औद्योगिक उत्पादन में तीन महीने में यह पहली गिरावट है।केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय के ताजा आंकड़ों में यह जानकारी दी गयी है। औद्योगिकी उत्पादन सूचकांक :आईआईपी: के संदर्भ में मापा जाने वाले औद्योगिक उत्पादन में पिछले वर्ष अप्रैल में तीन
प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी थी।

इन निराशाजनक आंकड़ों से कर्ज सस्ता किए जाने की मांग जोर पकड़ सकती है।

आईआईपी में इस वर्ष फरवरी में करीब 2.0 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। ताजा आंंकड़ों में मार्च की औद्योगिक


वृद्धि संशोधित कर 0.3 प्रतिशत कर दी गयी है। प्रारंभिक आंकड़ों के आधार पर मार्च की औद्योगिक वृद्धि 0.1 प्रतिशत बतायी गयी थी। इस साल जनवरी में आईआईपी में 1.6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी थी।

सूचकांक में 75 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी रखने वाला विनिर्माण क्षेत्र में इस साल अप्रैल में 3.1 प्रतिशत की गिरावट आयी जबकि पिछले साल इसी महीने में इसमें 3.9 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी।

इसी प्रकार, पूंजीगत वस्तुओं के उत्पादन में अप्रैल महीने में 24.9 प्रतिशत की गिरावट आयी जबकि पिछले साल इसी महीने इसमें 5.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। पूंजीगत सामान के उत्पादन को निवेश का मापक माना जाता है।

कुल मिलाकर उपभोक्ता वस्तुओं का उत्पादन आलोच्य महीने में 1.2 प्रतिशत घटा जबकि एक वर्ष पूर्व इसी महीने में इसमें 2.8 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। इसमें गिरावट मांग में कमजोरी का संकेत है।

उपभोक्ता गैर-टिकाउ खंड में उत्पादन में इस साल अप्रैल में 9.7 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी जबकि एक वर्ष पूर्व इसी महीने में इसमें 3.7 प्रतिशत की वृद्धि दर्ज की गयी थी।

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email