Pages

Follow by Email

Thursday, 26 May 2016

नेशनल कैपिटल गुड्स पॉलिसी मंजूर, पैदा होंगी 2 करोड़ नई जॉब्‍स.

नई दिल्ली। सरकार ने कैपिटल गुड्स सेक्टर को बढ़ावा देने के लिए कैपिटल गुड्स पॉलिसी को मंजूरी दे दी है। सरकार के इस कदम से मेक इन इंडिया प्रोग्राम कोबढ़ावा मिलेगा। इस पॉलिसी के जरिए 2025 तक 2 करोड़ से ज्यादा नई नौकरियां देने का भी लक्ष्‍य रखा गया है

2025 तक प्रोडक्शन 7.5 लाख करोड़ होगा सरकार के मुताबिक 2025 तक मैन्युफैक्चरिंग में कैपिटल गुड्स की हिस्सेदारी 12 से बढ़ाकर 20 फीसदी करने के लक्ष्य को ध्यान में रखते हुए नेशनल कैपिटल गुड्स पॉलिसी तैयार की गई है।
इसके जरिए वैश्विक स्तर पर भारतीय कैपिटल गुड्स सेक्टर के लिए एक बेहतर कॉम्पिटीशन का माहौल तैयार होगा। माना जा रहा है कि पॉलिसी मंजूर होने के बाद 2025 तक.कैपिटल गुड्स सेक्टर का टोटल प्रोडक्शन 2.3 लाख करोड़ से बढ़कर 7.5 लाख करोड़ हो जाएगा। 
इंपोर्ट पर एक समान कस्टम ड्यूटी
पॉलिसी के अनुसार कैपिटल गुड्स से संबंधित प्रोडक्ट्स के इंपोर्ट पर एक समान कस्टम ड्यूटी देना होगा। इसमें प्रोसेसिंग के लिए कच्चे माल या इंटरमीडिएट्स के रूप में या तैयार माल के विनिर्माण में इस्तेमाल होने वाले सामानों में जो प्रोडक्ट यूज किए जाते हैं, उन पर 50 फीसदी तक सेनवैट को मंजूरी देने का भी प्रस्ताव है। 
एक्सपोर्ट प्रोडक्शन 40 फीसदी तक बढ़ाने का लक्ष्य..
पॉलिसी के अनुसार, एक्सपोर्ट प्रोडक्शन के 27 फीसदी के मौजूदा स्तर से बढ़ाकर 40 फीसदी करने का लक्ष्य है। इसमें पूंजीगत वस्तु क्षेत्र से जुडे सह उत्पादों के क्षेत्रों में टेक्नोलॉजी इनोवेशन, रोजगार और स्किल डेवलपमेंट पर ध्यान दिया गया है। देश को कैपिटल गुड्स के लिए विश्व स्तरीय केंद्र बनाने पर जोर दिया गया है। इसमें भारी उद्योग मंत्रालय को विभिन्न कार्यक्रमों को समयबद्ध तरीके से भी लागू करने पर जोर दिया गया है/

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email