Pages

Follow by Email

Monday, 30 May 2016

रियल मेड्रिड ने जीता 11वां चैम्पियंस लीग खिताब


मिलान: इटली के शहर मिलान के सैन सिरो स्टेडियम में शनिवार को हुए चैम्पियंस लीग के फाइनल मुकाबले में रियल मेड्रिड ने अपने शहरी प्रतिद्वंद्वी एटलेटिको मेड्रिड को पेनाल्टी शूटआउट में 5-3 से हरा दिया. यह रियल का 11वां चैम्पियंस लीग खिताब है जबकि तीसरी बार फाइनल में पहुंचकर भी एटलेटिको को हार मिली.

इससे पहले दो वर्ष पूर्व लिस्बन में हुए चैम्पियंस लीग के फाइनल मुकाबले में रियल ने एटलेटिको को 4-1 से हराया था. एटलेटिको उसे पहले 1974 में फाइनल में पहुंचा था लेकिन उसे बायर्न म्यूनिख के हाथों हार मिली थी.
मुकाबले के 15वें मिनट में टीम के कप्तान और डिफेंडर सर्गियो रामोस ने पहला गोल दागकर रियल को 1-0 से बढ़त दिलाई. इसके बाद एटलेटिको की ओर से गोल दागने की काफी कोशिश की गई, लेकिन सारी कोशिशें नाकाम साबित हुईं.
मुकाबले के दूसरे हॉफ के शुरू में ही एटलेटिको को गोल करने का शानदार मौका मिला. रियल के पेपे के एक फाउल की वजह से एटलेटिको को पेनल्टी किक मिली. मैच में अच्छा प्रदर्शन कर रहे ग्रीजमैन को पेनल्टी किक लेने की जिम्मेदारी सौंपी गई लेकिन वह गेंद को गोल पोस्ट पर मार बैठे. इसके बाद भी एटलेटिको ने दबाव बनाए रखा और उसका प्रयास तब सफल हुआ, जब 79वें मिनट में बेल्जियम के यानिक कारास्को ने गोल दाग दिया.
यानिक के गोल ने 1-1 से बराबरी करते हुए एटलेटिको के मुकाबले में बने रहने की उम्मीद फिर से जगाई. इसके बाद दोनों टीमों की ओर से काफी कोशिश की गई, लेकिन मुकाबला 1-1 पर रुक गया.
इसके बाद दोनों टीमों को 30 मिनट का अतरिक्त समय दिया गया, लेकिन उसमें भी रियल और एटलेटिको की ओर से एक भी गोल नहीं दागा गया और मुकाबला आखिरकार पेनल्टी शूटआउट की ओर बढ़ा.
खचाखच भरे स्टेडियम में पेनल्टी शूटआउट में रियल और एटलेटिको की ओर से पहले तीन गोल तक मुकाबला बराबर था. रामोस ने चौथा गोल दागकर टीम को आगे किया. इसके बाद एटलेटिको के खिलाड़ी जुआन फ्रांसिस्को टोरेस (जुआनफ्रान) गोल नहीं मार सके. अब दारोमदार रियल के स्टार खिलाड़ी क्रिस्टियानो रोनाल्डो पर था जिन्होंने गोल दागने में कोई गलती नहीं की और रियल को चैंपियन बना दिया.
पेनल्टी शूटआउट में कोच जिनेदिन जिदान की रियल मैड्रिड टीम के लिए लुकास रोड्रिगेज ने पहला गोल किया. इसके बाद एटलेटिको के लिए एंटोनी ग्रीजमैन ने गोल किया.
रियल के लिए मार्सेलो ने दूसरा गोल एटलेटिको के नेट में सफलतापूर्वक पहुंचाया. कोच डिएगो सिमोन की टीम के लिए गाबी ने गोल किया और मुकाबला 2-2 से बराबर किया.
रियल के गारेथ बेल भी गोल दागने में सफल रहे. सॉल निगुएज ने गोल कर रियल को जवाब दिया. कप्तान रामोस ने रियल के लिए चौथा गोल किया.
इस रोमांचक मुकाबले में एटलेटिको की तरफ से चौथी पेनल्टी लेने आए जुआनफ्रान अपनी कोशिश में नाकाम रहे और रियल के स्टार स्ट्राइकर क्रिस्टियानो रोनाल्डो की ओर से किए गए गोल ने क्लब को 11वां चैम्पियंस लीग खिताब दिला दिया.
ऐसे कई रोचक तथ्य हैं जो शनिवार के फाइनल के बाद सामने आए हैं-
1. एटलेटिको तीसरी बार फाइनल में पहुंचक भी खिताब तक नहीं पहुंच सका. यह किसी टीम का खिताब जीते बिना फाइनल में सर्वाधिक प्रवेश है.
2. यह आठवां मौका है, जब चैम्पियंस लीग का फाइनल अतिरिक्त समय में खिंचा और सातवां ऐसा मैच है, जिसका परिणाम पेनाल्टी शूटआउट के माध्यम से निकला.
3. रियल के कोच जिनेदिन जिदान, मिगुएल मुनोज के बाद दूसरे ऐसे व्यक्ति हैं, जिन्होंने रियल मेड्रिड के कोच और खिलाड़ी के तौर पर चैम्पियंस लीग खिताब जीता है.
4. जिदान पहले ऐसे फ्रांसीसी मैनेजर हैं, जिन्होंने यह खिताब जीता है.
5. रियल के कप्तान सर्गियो रामोस पांचवें ऐसे खिलाड़ी हैं, जिन्होने चैम्पियंस लीग के दो अलग-अलग फाइनल मुकाबलों में गोल किए हैं. साथ ही वह यह कारनामा करने वाले पहले डिफेंडर हैं. रामोस से पहले राउल गोंजालेज, सैमुएल एटो, लियोनेल मेसी और क्रिस्टीयानो रोनाल्डो ने दो मौकों पर चैम्पियंस लीग फाइनल में गोल किए हैं.
6. कोच के तौर पर यह डिएगो सिमोन की दूसरी चैम्पियंस लीग फाइनल में हार है. उनसे अधिक चैम्पियंस लीग फाइनल सिर्फ मार्सेलो लिप्पी ने गंवाए हैं. लिप्पी ने तीन फाइलन गंवाए हैं.

No comments:

Post a Comment


This free script provided by
JavaScript Kit

Follow by Email